जुआरियों को पकड़ने गए आरक्षक की गोली मारकर हत्या

जुआरियों को पकड़ने गए आरक्षक की गोली मारकर हत्या
Please follow and like us:
1
https://www.youtube.com/embed/z95RiEFvXbc

छतरपुर। मप्र में बदमाशों के हौसले लगातार बुलंद होते जा रहे हैं। आम लोगों के अलावा बदमाश अब पुलिसकर्मियों को भी निशाना बना रहे हैं। दीपावली की रात हथियार लेकर घूम रहे बदमाशों को पकड़ने गए आरक्षक बालमुकुंद प्रजापति की गोली मारकर हत्या कर दी गई। उनका शव शुक्रवार सुबह लावारिस हालत में पड़ा मिला। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लिया है। कोतवाली टीआई के अनुसार आरक्षक की हत्या करने वाले जुआरियों नितिन कुशवाहा उर्फ पप्पू और अनिकेत द्विवेदी उर्फ जोंटी गिरफ्तार कर लिया गया है। ओरछा थाने में उनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। घटना की सूचना मिलने के बाद डीआईजी केसी जैन और एसपी विनीत खन्ना भी मौके पर पहुंच गए थे। जिस दौरान आरक्षक पर हमला हुआ वह ड्यूटी पर ही तैनात थे। पुलिस आरक्षक की हत्या के बाद इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, कोतवाली थाना क्षेत्र में तैनात हवलदार बालमुकुंद दीपावली की रात को ड्यूटी पर थे, तभी उन्हें सूचना मिली कि कुछ लोग परिवारी इलाके में हथियार लेकर वारदात की नीयत से घूम रहे हैं। मौके पर पहुंचे बालमुकुंद ने आरोपियों को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन आरोपियों ने आरक्षक को गोली मार दी।

– गोली लगने से मौके पर ही मौत
गोली लगने से आरक्षक बालमुकुंद की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस अधिकारियों को जैसे ही शुक्रवार सुबह आरक्षक की हत्या की जानकारी मिली, पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) केसी जैन सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। जांच के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

240 total views, 1 views today

Related posts: