बेटी की इज्जत बचाने आए पिता को दबंगों ने जिंदा जलाया

Please follow and like us:
1
https://www.youtube.com/embed/z95RiEFvXbc

युवती से आए दिन छेड़छाड करते थे मनचले
– पुलिस में शिकायत के बाद भी नहीं हो रही थी कार्रवाई
– पीड़िता के थाने पहुंचने से बौखला गए थे आरोपी

दमोह। एक पिता ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि बेटी की अस्मत बचाने की कीमत जान देकर चुकानी पड़ेगी, हटा थाना क्षेत्र में छेड़छाड़ का विरोध करने आए पिता को दबंगों ने किरोसिन डालकर जिंदा जला दिया। आरोपियों ने एक बेटी के बाप को सरेआम केरोसिन डालकर आग के हवाले कर दिया और बेबस पिता ने तड़पते हुए दम तोड़ दिया। बता दें कि दमोह जिले के हटा में रविवार की रात एक पिता के ऊपर सरेआम कैरोसिन डाल कर मोहल्ले की गली में आग के हवाले कर दिया गया। तड़पते चीखते पिता की आवाज लोगों ने सुनी तो उसे बचाने की कोशिश की गई उसे पहले रात्रि 11 बजे हटा के अस्पताल में और फिर दमोह के जिला अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया, लेकिन रविवार की रात 1 बजे आखिरकार उसने दम तोड़ दिया। इस पिता का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने अपनी बेटी के साथ हुई छेड़छाड़ का विरोध किया था। दरअसल हटा के नर्मदा साहू की बेटी के साथ उसके पड़ोस में रहने वाला एक युवक सचिन अक्सर छेड़छाड़ करता था और नर्मदा ने इस बात का विरोध किया और अंजाम नर्मदा को जिंदा जलाने के रूम में सामने आया।

– युवती को अक्सर छेड़ते थे आरोपी
दरअसल, मृतक की बेटी के साथ उसके पड़ोस में रहने वाला एक युवक अक्सर छेड़छाड़ करता था, जिसका युवती अक्सर विरोध करती थी, मृतक की पत्नी के मुताबिक छेड़छाड़ और लड़की को परेशान करने का सिलसिला बीते पंद्रह अगस्त से शुरू हुआ था, उस समय आरोपी के खिलाफ थाने में शिकायत भी दर्ज कराई गई थी, ये बात आरोपियों को नागवार गुजरी, जिसके बाद वे लोग और परेशान करना शुरू कर दिए।

– आरोपियों के सामने बेबस था परिवार
आरोपियों के तंग करने की वजह से पीड़िता का पूरा परिवार महीनों से सकते में था, एक तरफ अपनी बेटी की इज्जत का सवाल था तो दूसरी तरफ परिवार की सुरक्षा भी, लेकिन पड़ोसी बाज नहीं आए और एक बेबस पिता को आग के हवाले कर दिया, फिलहाल तीनों आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।
पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन सवाल ये उठता है कि पुलिस अगर पहले दर्ज कराए गए मामले को गंभीरता से लेती, तो एक पिता को इस कदर अपनी जान न गवानी पड़ती। हालांकि पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में मृतक की पत्नी और भाई आरोप लगा रहे हैं, जबकि पुलिस छेड़छाड़ की वजह से हुई वारदात से इनकार कर रही है।

– घटना से क्षेत्र में खौफ और दहशत का माहौल
इलाके में छेड़छाड़ का विरोध करने पर इस तरह की ये पहली वारदात नहीं है, बल्कि अक्सर ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, वहीं इस बार जो तरीका आरोपियों ने अपनाया है वो इलाके में खौफ और दशहत का माहौल पैदा जरूर कर गया है। सोमवार की सुबह एसपी विवेक अग्रवाल ने घटना स्थल का निरीक्षण किया है। आरोपियों की तलाश में टीमें बनाकर भेजी गई हैं।

224 total views, 1 views today

Related posts: