हिमाचल में धूमल के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी भाजपा

Please follow and like us:
1
https://www.youtube.com/embed/z95RiEFvXbc

-अमित शाह ने किया ऐलान

शिमला। हिमाचल प्रदेश चुनाव में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी ने आखिरकार अपने सीएम उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल पर एक बार फिर पार्टी ने भरोसा जताया है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने यह घोषणा की है। इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी वीरभद्र सिंह को अपनी पार्टी का सीएम कैंडिडेट घोषित किया था। बता दें कि हिमाचल में 9 नवंबर को वोटिंग होनी है और नतीजे 18 दिसंबर को सामने आएंगे। बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रेम कुमार धूमल इस बार अपनी पारंपरिक सीट हमीरपुर के बजाए सुजानपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। हमीरपुर लोकसभा क्षेत्र की सुजानपुर विधानसभा सीट 2008 में हुए परिसीमन के बाद अस्तित्व में आई। 2012 विधानसभा चुनाव में इस क्षेत्र के अंदर 65,006 मतदाता थे।

अस्तित्व में आने के बाद इस सीट पर राज्य की दोनों बड़ी पार्टियां कब्जा जमाने में नाकाम रही थीं। इस सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार राजिंदर सिंह ने 14,166 मतों से जीत हासिल कर दोनों खेमों में खलबली मचा दी थी, लेकिन इस बार बीजेपी के दिग्गज नेता और दो बार के मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने सुजानपुर विधानसभा से नामांकन दाखिल कर कांग्रेस और मौजूदा विधायक की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

कौन हैं प्रेम कुमार धूमल
73 साल के प्रेम कुमार धूमल हिमाचल प्रदेश की हमीरपुर विधानसभा सीट से नुमाइंदगी करते रहे हैं। 1984 में पहली बार धूमल ने लोकसभा चुनाव में हिस्सा लिया, हालांकि उन्हें हार का सामना करना पड़ा। 1989 के लोकसभा चुनाव में वह हमीरपुर सीट से विजयी हुए।

1991 में एक बार फिर धूमल ने हमीरपुर लोकसभा सीट से जीत दर्ज की। इसके बाद बीजेपी ने उन्हें हिमाचल प्रदेश राज्य इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया। 1996 के लोकसभा चुनाव में हालांकि उन्हें हार का सामना करना पड़ा। बीजेपी-हिमाचल विकास कांग्रेस की गठबंधन सरकार में पहली बार उन्होंने सीएम की कुर्सी संभाली। मार्च 1998 से मार्च 2003 तक वह प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। इसके बाद दिसंबर 2007 से दिसंबर 2012 तक वह दोबारा मुख्यमंत्री रहे।

जेटली ने दिए थे संकेत
इससे पहले घोषणापत्र जारी करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा था कि किसी बेहद अनुभवी नेता को ही राज्य में जिम्मेदारी दी जाएगी। हालांकि, तब उन्होंने कहा था कि यह फैसला पार्टी करेगी कि उम्मीदवार का नाम पहले घोषित किया जाएगा या चुनाव के बाद तय किया जाएगा। इससे पहले बीजेपी ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के दौरान सीएम कैंडिडेट नहीं घोषित किया था। लेकिन हिमाचल चुनाव में बीजेपी ने रणनीति बदलते हुए पहले ही सीएम कैंडिडेट का ऐलान कर दिया है।

हिमाचल: 10 दिग्गजों के लिए साख का सवाल, हारे तो सियासी पारी खत्म
शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव कांग्रेस-बीजेपी के कई दिग्ग्जों के लिए आखिरी चुनाव साबित हो सकता है। इतना ही नहीं ये चुनाव कई नेताओं की लंबी राजनीतिक पारियों के बाद सम्मान के साथ उनकी राजनीति से विदाई का फैसला भी कर सकता है। इस चुनाव में कांग्रेस-बीजेपी दोनों के ही 10 बड़े दिग्गज पार्टी के साथ निजी लड़ाई भी लड़ रहे हैं। इनमें कुछ वापस लौटे पुराने नेता भी हैं। 6 बार हिमाचल के सीएम बन चुके वीरभद्र सिंह कांग्रेस की ओर से 7वीं बार सीएम पद के उम्मीदवार बनाए गए हैं।

– ये 10 दिग्गज
1. वीरभद्र सिंह (83)
2. प्रेम कुमार धूमल (73)
3. गंगू राम मुसाफिर (72)
4. गुलाब सिंह ठाकुर (69)
बीजेपी
5. सुजान सिंह पठानिया (75)
-6. विप्लव ठाकुर (74)
7. कौल सिंह ठाकुर (72)

8. कुलदीप पठानिया (54)
9. मनसा राम (76)
10. महेंद्र सिंह (67)

188 total views, 3 views today

Related posts: