मप्र में हर रोज 13 महिलाओं से रेप, देश में एमपी नंबर 1

मप्र में हर रोज 13 महिलाओं से रेप, देश में एमपी नंबर 1
Please follow and like us:
1
https://www.youtube.com/embed/z95RiEFvXbc

मप्र में हर रोज 13 महिलाओं से रेप, देश में एमपी नंबर 1

भोपाल। प्रदेश की महिलाओं और बेटियों की रक्षा के तमाम दावे करने वाली प्रदेश की शिवराज सरकार के लिए यह खबर अच्छी नहीं है। गुरूवार को नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो की साल 2016 की आई ताजा रिपोर्ट सरकार के दावों को खोखला साबित कर रही है। रिपोर्ट के अनुसार रेप के मामलों में मध्यप्रदेश फिर नंबर वन पर आया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश भी रेप के मामले में प्रदेश से पीछे नहीं है। एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार मध्य प्रदेश में महिलाओं से रेप के सबसे अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। इस सूची में उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर है। मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में बलात्कार के केस क्रमश: 4882 (12.5%) और 4816 (12.4%) दर्ज किए गए। एनसीआरबी की साल 2015 की रिपोर्ट में भी रेप के सबसे ज्यादा केस मध्य प्रदेश में ही सामने आए थे। रिपोर्ट के मुताबिक दुष्कर्म की सबसे ज्यादा वारदातें 4,391 मध्य प्रदेश में हुई थीं। पिछले साल में राज्य के आंकड़ों में 12.1 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

मप्र में हर रोज 13 महिलाओं से रेप, देश में एमपी नंबर 1
मप्र में हर रोज 13 महिलाओं से रेप, देश में एमपी नंबर 1

– प्रदेश में लगातार बढ़ रहे अपराध
एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार साल 2016 के दौरान देश भर में रेप के 38,947 मामले दर्ज हुए, जबकि साल 2015 में यह संख्या 34,651 थी। साल 2016 में मध्यप्रदेश में दलितों के खिलाफ 43.4 फीसदी संज्ञेय अपराध हुए हैं। राजस्थान में 42 फीसदी, गोवा में 36.7 फीसदी, 34.4 फीसदी बिहार में और 32.5 फीसदी गुजरात में हुए है। जबकि पूरे देश में एसटी के खिलाफ अपराध का आंकड़ा 20.6 फीसदी था। नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो की रिपोर्ट सामने आने पर प्रदेश में राजनीति होना भी लाजमी है। प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने सरकार के सुशासन पर सवाल खड़े किए हैं।

एनसीआरबी की रिपोर्ट पर कांग्रेस ने सरकार को घेरा
एनसीआरबी की ताजा रिपोर्ट सामने आने के बाद प्रदेश में महिलाओं की वास्तविक स्थिति खुलकर सामने आ गई है। साल 2015-16 के जारी आंकड़ों के अनुसार देश भर में रेप की सबसे ज्यादा घटनाएं मध्य प्रदेश में हुई हैं। मध्य प्रदेश ही एक ऐसा राज्य बन गया है, जहां साल दर साल रेप की घटनाएं घटने के बजाए बढ़ती जा रही हैं। प्रदेश की शिवराज सरकार के लिए इन आंकडों ने चिंता की लकीरें बढा दी है।

122 total views, 1 views today

Related posts: